Online business news 

हिंदी न्यूज़ – ऐसे बनें फूड डिलीवरी बॉय, हर महीने होगी 50 हजार से ज्यादा की कमाई-how to become delivery boy in swiggy zomato flipkar amazon


आजकल देश में तेजी से ई-कॉमर्स कंपनियों का कारोबार बढ़ रहा है. इसमें भी एक खास सेगमेंट हैं, फूड डिलीवरी. डिलीवरी बॉय रोजाना 10-12 घंटे की जॉब कर 50 हजार रुपये से ज्यादा की कमाई कर रहे हैं. इससे पहले ये 18 से 20 हजार रुपये महीना पा रहे थे. साथ ही, ये कंपनियां पीक आवर और बारिश के दौरान डिलीवरी के लिए इंसेंटिव्स भी दे रही हैं. आपको यह जानकर बेहद हैरानी होगी कि पिछले कुछ महीनों के दौरान अमेजन और फ्लिपकार्ट के मुकाबले फूड डिलीवरी करने वाले बॉय ज्यादा कमा रहे हैं. आइए जानें कैसे बने डिलीवरी बॉय…

ऐसे बनें फूड डिलीवरी बॉय

डिलीवरी बॉय या डिलीवरी गर्ल उन लड़के-लड़कियों को कहा जाता है, जो कंपनी के पैकेज कस्टमर तक पहुंचते हैं. इन लोगों को फूड रेस्ट्रोरेंट से लेकर जल्द से जल्द कस्टमर के पास पहुंचाना होता है. इसके लिए रास्तों का ज्ञान होना भी बेहद जरूरी है. ऐसे में आप अपने शहर को चुनकर अच्छी कमाई कर सकते हैं. (ये भी पढ़ें-Video: इन कर्मचारियों ने उड़ाई ई-कॉमर्स कंपनियों की नींद, जानें क्‍या है मामला?)

कितनी मिलती है सैलरी- फूड डिलीवरी सेगमेंट में दबदबे की लड़ाई तेज होने के साथ कंपनियों में कस्टमर के घर ऑर्डर तेजी से पहुंचाने की होड़ बढ़ गई है. ऐसे में ज़मैटो, स्विगी और उबरईट्स जैसे फूड ऐग्रिगेटर प्लेटफॉर्म्स पर डिलीवरी एग्जिक्युटिव्स की कमाई ढाई गुनी होकर 40 से 50 हजार रुपये महीने हो गई है. इससे पहले ये 18 से 20 हजार रुपये महीना पा रहे थे. पिछले कुछ महीनों में जमैटो, स्विगी और उबरईट्स जैसे फूड ऐग्रिगेटरों ने अपने प्लेटफॉर्मों पर डिलीवरी बॉय का पेमेंट करीब 60 फीसदी या इससे भी ज्यादा बढ़ा दिया है. इसके अलावा पीक आवर और बारिश के दौरान डिलीवरी के लिए इंसेंटिव्स भी दिए जा रहे हैं. (ये भी पढ़ें-10वीं पास के लिए यहां हैं लाखों नौकरियां, 12 लाख करोड़ रुपए की है यह इंडस्‍ट्री

स्विगी और ज़मैटो, दोनों ही अपने डिलीवरी सिस्टम को बेहतर बना रहे हैं. स्विगी के प्लेटफॉर्म पर जनवरी में करीब 30 हजार डिलीवरी एग्जिक्युटिव्स थे, जिनकी संख्या अब 55 हजार से ज्यादा हो चुकी है. वहीं जमैटो के मामले में आंकड़ा जनवरी के 1,800 से बढ़कर 50 हजार हो चुका है.

एक डिलीवरी पर मिल रहे हैं 80-120 रुपये- स्विगी अपनी फ्लीट कपैसिटी को अगले 6-9 महीनों में एक लाख डिलीवरी एग्जिक्युटिव्स तक ले जाने की योजना बना रही है. स्विगी और जमैटो के लिए बेंगलुरु, हैदराबाद, पुणे और दिल्ली में ज्यादा डिमांड वाले इलाकों में डिलीवरी बॉय को प्रति ऑर्डर इंसेंटिव्स सहित 80-120 रुपये मिलने लगे हैं. पहले इन जगहों पर उन्हें 40-45 रुपये मिला करते थे. कम कारोबारी होड़वाले इलाकों में अब भी पेमेंट इसी के आसपास है.(ये भी पढ़ें- Video: ये हैं वो 5 सरकारी नौकरियां हैं, जहां मिलती है लाखों रुपए की सैलरी और सुविधाएं)

डिलीवरी बॉय बनाने के लिए क्या क्या चाहिए?
आपके पास अपनी डिग्री होनी चाहिए. चाहे स्कूल पास हों या कॉलेज लेकिन पासिंग सर्टिफिकेट होना चाहिए. डिलीवरी करने के लिए एक बाइक या स्कूटर होना चाहिए. साथ ही, आपके स्कूटर/बाइक के सभी कागज जैसे इंश्योरेंस, आरसी, ड्राइविंग लाइसेंस जरूरी है.(ये भी पढ़ें- VIDEO: निकेश अरोड़ा बने पालो अल्टो नेटवर्क के CEO, मिला 857 करोड़ का सैलरी पैकेज)

ऐसे करें अप्लाई-आप या तो कंपनी की वेबसाइट पर जाकर अप्लाई कर सकते हैं, या फिर सीधे इंटरव्यु में शामिल हो सकते हैं. इसका विज्ञापन अखबारों में छपता है. फिलहाल स्विगी ने अपनी वेबसाइट पर https://docs.google.com/forms/d/e/1FAIpQLSe96qGGC2HdyEj4arLnicX0MYg8eScKHSOmibk0zd1DqMT2AQ/viewform डिलविरी बॉय के लिए नौकरियां निकाली है. आप अप्लाई कर सकते हैं.

ऑनलाइन रजिस्टर करने के लिए –

>> अपने खुद के ईमेल से रजिस्टर करें.

>> पूरा फॉर्म ठीक से भरें, कोई जानकारी छोड़ें नहीं.

>> टर्म्स ऑफ़ सर्विस भी पढ़ लें

>> बैकग्राउंड चेक के लिए इंकार नहीं करें
सवाल: कहां-कहां डिलीवरी करनी होती है?
जवाब: आपको ऑफिस और घर, दोनों किस्म के पतों पर डिलीवरी करनी होती है.

सवाल:अगर आपको लगता है की आप काम करना चाहते हैं लेकिन आपको आता नहीं है ?
जवाब: अगर आपको लगता है की आपको काम मुश्किल लगेगा तो बेफिक्र हो जाइये. कंपनी आपको डिलीवरी के बारे में सब विस्तार से समझाते हैं.

सवाल: नौकरी पर्मानेंट होती है या कॉन्ट्रैक्ट ?
जवाब: नौकरी न परमानेंट होती है न कॉन्ट्रैक्ट. आप जब चाहें नौकरी छोड़ सकते हैं या आपके ख़राब काम को देखकर आपको निकाला जा सकता है.

 



Source link

Related posts

Leave a Comment